Jeevan ka asli rahssy | रहस्य क्या है तो आइए जाने दोस्तों

Spread the love

Table of Contents

Jeevan ka asli rahssy | रहस्य क्या है तो आइए जाने दोस्तों


नमस्कार दोस्तों God Gyan में आपका स्वागत है। यहां दोस्तों आज हम बात करेंगे कि व्यक्ति की खुशी का सबसे बड़ा Jeevan ka asli rahssy रहस्य क्या है तो आइए जाने दोस्तों इच्छा एक ऐसा अंत आत्मा का अंदर का एक भाव है जिसका त्याग करके आदमी अपने अंदर आत्मा अंदर शांति का अनुभव करता है। 

Jeevan ka asli rahssy

त्याग करना बहुत जरूरी होता है

इच्छाएं ऐसी होती हैं जिनको त्याग करना बहुत जरूरी होता है तथा कुछ इच्छाएं  ऐसी होते हैं जिनका त्याग कभी भी करना चाहिए इच्छाओं का त्याग करने वाला यात्रियों के गुण गाना उतना ही असंभव है जितना संसार में अब तक मरीजों की गिनती करना। 

दोस्तों इन छह का त्याग कभी नहीं करें सत्य , दान ,कर्म ,क्षमा ,धर्म ,गुरु ,दोस्तों सत्य का कभी भी त्याग मत कर अपने जीवन से सत्य का त्याग करना व्यर्थ है. दान का त्याग मत करना क्योंकि दान से हाथों की सोभा  होती है हमारे अंदर  शांति का अनुभव होता।

हर वक्त कर्म  करना है 

दोस्तों कर्म क्योंकि जिंदगी जीना है तो कर्म का त्याग नहीं करना है करना है हर वक्त कर्म  करना है, क्षमा दोस्तों क्षमा का त्याग अपने जीवन में मत करना क्योंकि दूसरों से गलती हो जाती है तो उसको क्षमा करना सबसे बड़ा वीर पुरुष गुण हैं ,एक ऐसा शब्द है जिसके गंभीरता धीरज  रखने से बहुत बड़ी कामयाबी हासिल होती है। और दोस्तों एक गुरु ऐसा शब्द है जिसका त्याग लाइफ में जिंदगी में कभी नहीं करना चाहिए क्योंकि गुरु बिना कभी गति नहीं होती है। 

बिना त्याग और बलिदान

त्याग और बलिदान किए बिना यदि तुम ज्ञान प्राप्त करना चाहते हो तो उसका देवता तुम्हारे लिए द्वार कभी नहीं खोलेंगे। यह संसार में कुछ भी पानी के लिए उसका मूल्य चुकाना ही पड़ता है त्याग के बिना किसी स्वार्थ की प्राप्ति नहीं होती है दोस्तों यह रविंद्र नाथ टैगोर जी के बाक्य है   .

Tiyag के बिना किसी स्वार्थ की प्राप्ति नहीं होती है संसार में सबसे बड़ा अधिकार सेवा और त्याग से प्राप्त होता है या वाक्य प्रेमचंद जी का है जिन्होंने कहा है कि संसार में सबसे बड़ा अधिकार सेवा और त्याग से प्राप्त होता है। 

आनंद प्राप्ति के लिए सुंदरता

कोई भी इंसान  स्वयं के लिए गुलाब नहीं उगाता  है आनंद प्राप्ति के लिए सुंदरता और दूसरों के साथ बांटने में उसकी प्राप्ति में वृद्धि होती है ऊंचाई पर पहुंचने के पश्चात बादल बनकर भलाई के लिए बरसों अपना  जीवन लेने के लिए नहीं देने के लिए है खुशी का सबसे बड़ा रहस्य त्याग है   दोस्तों यदि जिंदगी में अपने अंदर ही खुशी का अनुभव करना है तो वह सबसे बड़ा रहस्य त्याग है।

त्याग के बिना ना ईश्वर ना इस्वर प्राप्त नहीं हो सकता है 

त्याग के बिना ना ईश्वर ना इस्वर प्राप्त नहीं हो सकता है  त्याग के समान कोई सुख  नहीं है या महाभारत में कहा गया है पूर्ण त्याग और ईश्वर में पूर्ण विश्वास ही हर चमत्कार का रहस्य है खुशी इस बात पर निर्भर करती है कि आप क्या दे सकते हैं इस पर नहीं कि आप क्या पा सकते हो कर्म से धन से अथवा संतान से विद्वानों से अमृत रूपी मुक्त नहीं प्राप्त किया किंतु त्याग  से उसे प्राप्त किया है। 

दोस्तों हमारी यह पोस्ट Jeevan ka asli rahssy आपको कैसी लगी नीचे कमेंट में जरूर बताएं तथा अपने दोस्तों के साथ ज्ञानरूपी  इन शब्दों को शेयर करें। 

Read the post:

2 thoughts on “Jeevan ka asli rahssy | रहस्य क्या है तो आइए जाने दोस्तों”

  1. Pingback: Jeevan Mai Karm कैसे करे? अपने कर्मों को हमें कैसे करना चाहिए

  2. Pingback: हमारा जीवन क्या और जीवन का मूल उद्देश्य | jeevan ka mul udeshy kya hai,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top