त्याग क्या है इन हिंदी महापुरुषों के विचार

हेलो दोस्तों नमस्कार आपका स्वागत है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे। त्याग क्या है? और त्याग के क्या फल हैं? महापुरुषों द्वारा दिए गए महत्त्वपूर्ण वक्तव्य में त्याग किसे कहा गया है। किसे त्यागने से सुख प्राप्त होता है। व्यक्ति की ख़ुशी का सबसे बड़ा रहस्य क्या है? आइए जाने आप नीचे दिए गए लाइनों को पूरा पढ़ें, चलिए शुरू करें।

Tyag kya hai in hindi
Tyag kya hai in hindi

त्याग पर महापुरुषों के विचार

  1. श्री निक्वार्क:-इच्छाओं का त्याग करने वाले यात्रियों के गुण गाना उतना ही असंभव है जितना संसार में अब तक मरे जीवों की गिनती करना।
  2. वेद व्यास:-इन छे का त्याग कभी ना करें सत्य, दान, कर्म, क्षमा, धैर्य और गुरु।
  3. रविंद्र नाथ ठाकुर:-त्याग के बिना किसी स्वार्थ की प्राप्ति नहीं होती है।
  4. प्रेमचंद:-संसार में सबसे बड़ा अधिकार सेवा और त्याग से प्राप्त होता है।
  5. चेस्टर चार्ल्स:-कोई भी मनुष्य स्वयं के लिए गुलाब नहीं उगाता है आनंद प्राप्ति के लिए सुंदरता को दूसरों के साथ बांटने से ही उसकी प्राप्ति में वृद्धि होती है।
  6. नित्यानंद स्वामी:-ऊंचाई पर पहुँचने के पश्चात बादल बनकर भलाई के लिए बरसों,

त्याग के फल महापुरुषों के विचार

त्याग क्या है इन हिंदी महापुरुषों के विचार
त्याग क्या है इन हिंदी महापुरुषों के विचार
  1. विवेकानंद:-अपना जीवन लेने के लिए नहीं देने के लिए है।
  2. महात्मा गांधी:-जिस आदमी की त्याग की भावना अपनी जाति से आगे नहीं बढ़ती, वह स्वयं स्वार्थी होता है और अपनी जाति को ही स्वार्थी बनाता है।
  3. एड्यू कार्नेगी:-खुशी का सबसे बड़ा रहस्य त्याग है
  4. माल्टेन:-छोटी वस्तुओं की अपेक्षा बड़ी वस्तुओं का त्याग करना सरल है।
  5. रामतीर्था:-त्याग के अतिरिक्त और कहाँ वास्तविक आनंद मिल सकता है, त्याग के बिना ना ईश्वर प्रेरणा हो पाती।

Tyag Quotes Hindi

  1. महाभारत:-त्याग के समान कोई सुख नहीं है।
  2. स्वामी रामकृष्ण परमहंस:-पूर्ण त्याग और ईश्वर में पूर्ण विश्वास ही हर चमत्कार का रहस्य है।
  3. महात्मा गांधी:-खुशी इस बात पर निर्भर करती है कि आप क्या दे सकते हैं, इस पर नहीं कि आप क्या पा सकते हो।
  4. अज्ञात:-कर्म से, धन से, अथवा संतान से, विद्वानों ने अमृत रूपी मोक्ष नहीं प्राप्त किया है। किंतु एक त्याग से उसे प्राप्त किया है।
  5. स्वेट मार्डन:-त्याग और बलिदान किए बिना यदि तुम ज्ञान प्राप्त करना चाहते हो तो उसका देवता तुम्हारे लिए द्वार नहीं खोलेगा। इस संसार में कुछ भी पाने के लिए उसका मूल्य चुकाना ही पड़ता है।

पोस्ट निष्कर्ष

महानुभाव अपने ऊपर दिए गए कुछ महत्त्वपूर्ण अनमोल महापुरुषों के त्याग पर विचार पड़े आपको ज़रूर ऊपर दिया गया कंटेंट अच्छा लगा होगा। आप अपने सोशल नेटवर्क पर भी त्याग से रिलेटेड जानकारी को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर कर सकते हैं। पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, आपका समय मंगलमय हो।

Read The Post:-

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top