Goodness In Hindi || भलाई (Upkar) शब्द पर महापुरुषों के विचार

Goodness इन हिन्दी मीनिंग, जीवन में उपकार से हमारे लिए क्या प्रभावित होता है? भलाई शब्द पर महापुरुषों ने क्या-क्या वक्तव्य दिए? वास्तव में कहावत है कि ‘कर भला, हो भला’। कुछ लोग इसे कोरी कहावत मानते हैं किन्तु यह शाश्वत सत्य है। जिन्हें शंका हो वे आजमा कर देख सकते हैं। स्वार्थवश किया गया कार्य भलाई नहीं। Goodness In Hindi के सही मायने क्या हैं-आइये जानें।

Goodness In Hindi
Goodness In Hindi

भलाई का अर्थ (Goodness In Hindi Meaning)

सबसे पहले हम भलाई के बारे में जानते हैं। दोस्तों जैसे कि कहा जाता है कि किसी के साथ यदि हम अच्छा (Good) करेंगे, तो हमारे साथ भी अच्छा होगा। ठीक भलाई को अंग्रेजी में Goodness कहते हैं। इसके अलावा इसके और भी नाम से पुकारते हैं जैसे कि

Good, कल्याण, upkar, लाभ, पुण्यात्मा, सुविधा, परोपकार या और भी तमाम प्रकार के भलाई शब्द के संज्ञा नाम हैं। पर्यायवाची शब्द हैं। भलाई (Goodness) एक दूसरे के साथ अच्छा करना ही भलाई का काम है। किसी के काम में मदद करना यह Goodness का काम है चलिए महापुरुषों ने Bhalai के बारे में और क्या कहा इसे विस्तार से जानते हैं।

Goodness In Hindi thoughts

1- बुरे आदमी के साथ भी भलाई ही करनी चाहिए। रोटी का एक टुकड़ा डालकर कुत्ते का मुँह बंद कर देना चाहिए। -शेख सादी
2- जैसे एक छोटे से दीप का प्रकाश बहुत दूर तक फैलता है, उसी तरह इस बुरी दुनिया में Goodness बहुत दूर तक चमकती है। -शेक्सपीयर
3- भले बनकर तुम दूसरों की भलाई का कारण बन जाते हो। —सुकरात
4- जो upkar करने का सदा प्रयत्न करता है, वह मनुष्य और परमेश्वर दोनों की कृपा प्राप्त करता है। पर जो बुराई की तलाश में रहता है, उसको बुराई ही मिलती है। -नीति वचन
5- जो दूसरों की भलाई करता है वह अपनी Goodness स्वयं कर लेता है। परिणाम में नहीं वरन् कर्म करने में ही क्योंकि सुकर्म का भाव ही एक यथेष्ठ पारितोषक है। -सेनेका

6- जो दूसरों की बुराई करते हैं, वे खुद निंदित होते हैं। —ऋग्वेद-
7- भगवान् तुम्हारे पदक, डिग्री या सर्टिफिकेट्स से नहीं जाँचेगा, अपितु उन जख्मों के निशानों से जाँचेगा, जो तुम्हारे शरीर पर भलाई के लिए बने। -एलबर्ट हुब्बार्डस
8- मनुष्य जब संसार से जाता है तो भलाई या बुराई ही साथ ले जाता है। -कबीर
9- मानव की Bhalai करने के अतिरिक्त और अन्य किसी कर्म द्वारा मनुष्य ईश्वर के इतने निकट नहीं पहुँच सकता। -सिसरो
10- जिसमें उपकार वृत्ति नहीं, वह मनुष्य कहलाने का अधिकारी नहीं। महात्मा गांधी-

Quotes about goodness

11- भली बातें कड़वी होती हैं, किन्तु उनके कड़वेपन का स्वागत करना चाहिए। क्योंकि उनमें भलाई निवास करती है। —भर्तृहरि
12- जो भलाई से प्रेम करता है वह देवताओं की पूजा करता है, आदरणीयों का सम्मान करता है और ईश्वर के समीप रहता है। -इमर्सन
13- जो मनुष्य जगत की जितनी goodness करेगा, उसको ईश्वर की व्यवस्था से उतना ही सुख प्राप्त होगा। -दयानंद सरस्वती
14- goodness का मार्ग भय से पूर्ण है, परन्तु परिणाम अत्युत्तम है। -सुदर्शन
15- जो मेरे साथ Good करता है, वह मुझे भला होना सिखा देता है। -फुलर

16- पुष्प की सुगन्ध वायु के विपरीत कभी नहीं जाती, परन्तु मानव के सद्गुण की महक सब तरफ फैल जाती है। -गौतम बुद्ध
17- भलाई जितनी अधिक की जाती है उतनी ही अधिक फैलती है। -मिल्टन
18- जिनके हृदय में सदैव परोपकार (upkar) की भावना रहती है उसकी आपदाएँ समाप्त हो जाती हैं और पग-पग पर धन की प्राप्ति है। -चाणक्य-
19- वह भावना जो कभी शान्त न होकर उत्तेजना के रथ पर सवार रहे, उसमें जुते घोड़े ईर्ष्या के होते हैं। -सैमुअल जॉनसन
20- भलाई रह जाती है, इसके अतिरिक्त सब वस्तुएँ नष्ट हो जाती हैं। -कहावत

Good hindi thoughts

21- आदमी को चाहिए कि बुराई के बजाय भलाई का रास्ता अपनाए। भलाई करने वाले लोग लोक व परलोक दोनों में ही सुख से रहते हैं। —बुद्ध
22- Goodness करने के बाद यह अहसास होना कि ‘भला किया’ , बुरा करने की तैयारी हुआ करती है। -वेदान्त तीर्थ-
23- Good करना मानव का शानदार कर्त्तव्य है। -सफोक्लीज
24- जो दूसरों की भलाई करना चाहता है, उसने अपना भला तो कर ही लिया। कनफ्यूशियस
25- दया के सम्मुख जैसे दुष्टता का नाश हो जाता है, वैसे ही प्रेम और उदार सहानुभूति के सम्मुख बुरे मनोविकारों का नाश हो जाता है। -स्वेट मार्डेन

26- दुर्जनों के साथ भलाई (upkar) करना सज्जनों के साथ बुराई करने के समान है। —सादी
27- भलाई बुराई का अभाव नहीं वरन् उस पर विजय है। -सर अर्नेस्ट बोर्न
28- जो मनुष्य भलाई के बदले में बुराई करता है, उसके घर में बुराई सदैव निवास करती है। –नीति वचन
29- जो मनुष्य जगत की जितनी भलाई (Goodness) करेगा, उसको ईश्वर की व्यवस्था में उतना ही सुख प्राप्त होगा। -दयानंद सरस्वती
30- सच्चा मनुष्य वह है जो बुराई का बदला भलाई (Good) से दे। -गुरुजन राजन श्री है।
31- जिस घर में पति-पत्नी एक-दूसरे के प्रति समभाव नहीं रखते, वहीं दरिद्रता का निवास है। वहाँ उन दोनों का जीवन निष्फल-ब्रह्मवैवर्त पुराण

निष्कर्ष:

ऊपर दिए गए Thoughts के माध्यम से अपने महापुरुषों के द्वारा दिए गए Goodness In Hindi भलाई के बारे में कुछ महत्त्वपूर्ण विचार जाने। आशा है आप को ऊपर दिया गया आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा अपने दोस्तों को भी साझा करें।

और अधिक पढ़ें: Chinta in hindi चिंता मनुष्य को कैसे परेशान करती है? महापुरुषों के वचन

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top