Dhairya in Hindi / धैर्य पर सुविचार ।। जीवन में क्या महत्त्व है?

धैर्य का जीवन में क्या महत्त्व है? Dhairya कैसे होते हैं Dhairya in Hindi धैर्य धारण करके क्या पाया जा सकता है? आपकी प्रतिभा में धैर्य की क्या भूमिका होती है? इस संदर्भ में महान विचारकों का मत, धैर्य क्या किसे कहते हैं Dhairya in meaning इसका मतलब क्या होता है? सही अर्थ क्या हो सकता है? इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे धैर्य के बारे में महापुरुषों के महत्त्वपूर्ण विचार जो हमारे जीवन में एक नई राह प्रदान करते हैं। तो चलिए शुरू करते हैं महापुरुषों के विचारों के साथ।

Dhairya in Hindi
Dhairya in Hindi

धैर्य पर सुविचार (Dhairya in Hindi)

  1. डिजरायली (Disraeli) : Dhairya प्रतिभा का एक आवश्यक तत्व है।
  2. सेंट जस्ट (St Just) : शांत रहो और धैर्य रखो। तुम प्रत्येक पर शासन कर सकते हो।
  3. बेंजामिन फ्रैंकलिन (Benjamin Franklin) : जिसके पास धैर्य है, वह जो इच्छा करता है, प्राप्त कर सकता है।
  4. चाणक्य (Chanakya) : अच्छे श्रोता बनो। धैर्य से सुनो। लेकिन करो वही जो तुम्हारा विवेक कहता है।
  5. सुकरात (Socrates) : मित्रता करने में धैर्य से काम लेना चाहिए, अगर मित्रता कर लो तो उसे अचल और दृढ़ होकर निभाओ।
  6. कबीर (Kabir) : Dhairya वह वजह है जिसके कारण हाथी मन भर खाता है। लेकिन कुत्ता एक-एक टुकड़े के लिए घर-घर मारा फिरता है क्योंकि वह धैर्य से हीन होता है।
  7. रस्किन (Ruskin) : धैर्य सब प्रसन्नताओं एवं शक्तियों का मूल है।
  8. बेंजामिन फ्रैंकलिन (Benjamin Franklin) : जिसके पास धैर्य है, वह जो इच्छा करता है, प्राप्त कर सकता है।
  9. जातक (Jaatak) : धैर्य और सहनशीलता का गुण पाने के पश्चात् बाकी गुणों की जरूरत नहीं रह जाती, क्योंकि प्रत्येक वीर में ही यह गुण होते हैं।
  10. रूसो (Rousseau) : Dhairya जब बढता जाता है तो कड़वा लगता है लेकिन भोग के समय मीठा फल उसके कारण ही प्राप्त होता है।

जीवन में Dhairya क्या महत्त्व है?

  1. शेख सादी (Sheikh Saadi) : अनेक काम Dhairya से सम्पन्न होते हैं और जल्दबाज मनुष्य सिर के बल गिरता है।
  2. कुरान (Quran) : मुसीबतें टूट पड़ें, हाल-बेहाल हो जाएँ तब भी लोग निश्चय से डिगते नहीं और धीरज रखकर चलते हैं, वे ही सच्चे धैर्यशाली हैं।
  3. रामकृष्ण परमहंस (Ramakrishna Paramhansa) : धैर्य दर्द से भरा है, किन्तु उसका फल मधुर होता है।
  4. भर्तृहरि (Bhartrihari) : जो व्यक्ति स्वभाव से धैर्यवान है, वह महान् विपत्ति के समय भी अधीर नहीं होता।
  5. कथा सरित सागर (Katha Sarit Sagar) : धैर्यवान के कदम मंजिल पर अवश्य पहुँचते हैं।
  6. योग वसिष्ठ (Yoga Vasistha) : अपने Dhairya के बिना अन्य कोई संकट से मनुष्य का उद्धार नहीं करता।
  7. चाणक्य (Chanakya) : धैर्य हो तो दरिद्रता भी शोभा देती है। धुले हुए हों तो फटे वस्त्र भी अच्छे लगते हैं। घटिया भोजन भी गरम होने से स्वादिष्ट होता है और सुंदर स्वभाव के कारण कुरूपता भी शोभा पाती है।
  8. कथा सरित सागर (Katha Sarit Sagar) : धैर्यवान पुरुष कार्य आरम्भ करने के बाद असफल होकर नहीं लौटते।
  9. डिजरायली (Disraeli) धैर्य प्रतिभा का एक आवश्यक अंग है।
  10. वेदान्त तीर्थ (Vedanta Tirtha) : जो धीरज रख सकता है, भूखा रह सकता है, उत्तेजना में भी अपनी चिंतन शक्ति को स्थिर रख सकता है, वह जीवन में कभी असफल नहीं होता। सफलता उसकी सदैव दासी बनकर रहती है।

धैर्य का जीवन में महत्त्व (Dhairya in Homan Life)

  1. इमर्सन (Emerson) : प्रकृति के चरण-चिन्हों पर चलो, उसका रहस्य है-सब (Sabrr)
  2. शेख सादी (Sheikh Saadi) : धैर्य के द्वारा जीवन के लक्ष्य का द्वार खुल जाता है। उस द्वार की चाबी धैर्य के अतिरिक्त दूसरी नहीं।
  3. भगवान् बुद्ध (Lord Buddha) : Dhairya सबसे बड़ी प्रार्थना है।
  4. विदुर नीति (Vidur Niti) : धैर्य, मनोविग्रह, इंद्रिय संयम, पवित्रता, दया, कोमल वाणी और मित्र से द्रोह न करना यह सात बातें लक्ष्मी को बढ़ाने वाली हैं।
  5. बेंजामिन फ्रैंकलिन (Benjamin Franklin) : जिसके पास धैर्य है, वह जो इच्छा करता है, प्राप्त कर सकता है।
  6. मीनू कृष्ण (Meenu Krishna) धैर्य और सन्तोष जीवन-नौका की पतवार है जो नौका को मंजिल तक पहुचाँते हैं।
  7. लॉ फॉण्टेन (Law Fontaine) : Dhairya और मेहनत से वह सब प्राप्त किया जा सकता है जो शक्ति और शीघ्रता से कभी नहीं पाया जाता।
  8. कालिदास (Kalidas) : विचारों के कारण उपस्थित होने पर भी जिसके मन में विकार उत्पन्न नहीं होते, वह धैर्यवान है।
  9. बाणभट्ट (Banabhatta) सज्जन यदि निर्धन भी है तो उसे धनवान जानो क्योंकि उसके पास Dhairya का धन है।
  10. अज्ञात (unknown) : धैर्य और सन्तुष्टि का जीवन, यह नौका की वह पतवारें हैं, जो नौका को उसकी मंजिल तक ले जाते हैं।

निष्कर्ष

आपने ऊपर दिए गए कंटेंट के माध्यम से Dhairya in Hindi से रिलेटेड पूरा कंटेंट पढ़ा महापुरुषों ने धैर्य की क्या परिभाषा दी क्या अर्थ समझाया है? जीवन में एक नई राह प्रदान हो सकती है। आशा है आपको यह जानकारी जरूर अच्छी लगी होगी। सोशल नेटवर्क के माध्यम से शेयर करें धन्यवाद ।

और अधिक पढ़ें:- Ishwar In Hindi | ईश्वर पर महान विचारकों के विचार | ईश्वर के प्रति हमारा

1 thought on “Dhairya in Hindi / धैर्य पर सुविचार ।। जीवन में क्या महत्त्व है?”

  1. Pingback: Ghamand Quotes || अंहकार के संदर्भ में महान् विचारकों का मत - God Gyan

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top