Aasha जीवन कैसे प्रभावित करती है? आशा का अर्थ मतलब महापुरुष क्या कहते हैं?

Aasha जीवन कैसे प्रभावित करती है? आशा का अर्थ मतलब और फुल फॉर्म हिन्दी में जाने महापुरुष क्या कहते हैं Aasha के बारे में, Hope ही जीवन है। आशा को जीवन इसलिए कहा गया है कि इससे जीने की प्रेरणा मिलती है, बल मिलता है। आशावादी कभी हतोत्साहित नहीं होता और उसमें जीवन की उन्नति की, सफलता और जीत की लाखों सम्भावनाएँ अंगड़ाइयाँलेती हैं। आइये, देखें महान विभूतियों के विचार asha के विषय में;

Aasha
Aasha

आशा क्या है? (Aasha Kya)

1-निराशा और आशा मन के खेल हैं, उनसे मुक्त रहकर कार्य करना मनुष्य का धर्म है। -मनुस्मृति
2-Aasha दुखियों के लिए एकमात्र औषधि है। -शेक्सपीयर
3-Hope उत्साह की जननी है। आशा में तेज है, बल है, जीवन है। Hope ही संसार की संचालन शक्ति है। -प्रेमचन्द
4-जिसके पास aasha से बंधे कर्म हैं, उसके पास सब कुछ है। -इमर्सन

5-इस सत्य को धारण करो कि भगवान् न पराए हैं, न तुमसे दूर हैं और न ही दुर्लभ हैं। -महात्मा गांधी
6-जीवन में आशा-निराशा धूप-छांव के समान है। —इमर्सन
7-मनुष्य के लिए निराशा पाप समान है। पाप की निराशा रूपी लता को हटाकर आशावादी बनो। -हितोपदेश
8-Aasha अमर है। उसकी अराधना कभी निष्फल नहीं होती। -गांधी
9-आशा मनुष्य के लिए अमृत के समान है। जिस प्रकार पेड़ पौधों को सूरज से जीवन मिलता है उसी प्रकार Aasha से मनुष्य में नए उत्साह का संचार होता है। में-स्वेट मार्डन

महापुरुष क्या बताते आशा का अर्थ (Aasha Ka Airth)

9-निरर्थक आशा से बंधा मानव अपना हृदय सुखा डालता है और Aasha की कड़ी टूटते ही वह झट से विदा हो जाता है। -रवीन्द्रनाथ ठाकुर
10-मनुष्य को तपस्या द्वारा रूप, सौभाग्य और मनोवांछित रत्न प्राप्त होते हैं। भाग्य के भरोसे रहने वाले को निराशा ही मिलती है। -वेदव्यास
11-जो केवल आशाओं के सहारे जीता है, शीघ्र ही वह भूखा मर जाएगा। -फ्रैंकलिन
12-Aasha तो बड़ी चीज है और फिर बच्चों की आशा। उनकी। कल्पना तो राई को पर्वत बना देती है। -प्रेमचन्द

13-आशा उस वक्त भी आपके साथ रहती है, जब दुःख में हर व्यक्ति आपका साथ छोड़ चुका हो। -अंग्रेजी लोकोक्ति
14-तुम दूसरों से कैसे आशा कर सकते हो कि वह तुम्हारी Aasa के अनुकूल हो यदि तुम स्वयं को ही अपनी इच्छा के अनुरूप नहीं बना सकते। आचार्य धर्मनन्द
15-नई चीज सीखने की जिसने Hope छोड़ दी, वह बूढ़ा है। -विनोबा भावे
16-प्रयत्नशील व्यक्तियों के लिए Aasha सदैव जीवित रहती है। -मैथिलीशरण गुप्त

आशा का मतलब महापुरुषों ने बताया (Aasa Ka Matlav)

17-आशावाद ही वह पंथ है, जो सफलता की ओर से जाता है। आशा के बिना कोई भी कार्य किया ही नहीं जा सकता। -हेलेन केलर
18-Aasha जीवन का लंगर है उसका सहारा छोड़ने से आदमी भवसागर में बह जाता है। श्रम व Aasha करने से ही कार्य पूरे होते हैं-लुकमान
19-निराशा मस्तिष्क के लिए पक्षाधान है जैसे जिस्म के लिए लकवा। -ग्रेविल

20-जिस व्यक्ति में सफलता के लिए आशा और आत्मविश्वास है, वही व्यक्ति जीवन की सभी कठिनाइयों को झेलते, हँसते-हँसते जीवन के उच्च शिखर पर पहुँच पाते हैं। -स्वेट मार्डेन
21-वास्तव में जिसे किसी प्रकार की Aasha नहीं है, वही सुख से सोता है। आशा का न होना परम पद की प्राप्ति है। -वेदव्यास
22-निराशा संभव को असंभव बनाकर प्रस्तुत करती है। -जयशंकर प्रसाद

आशा का फुल फॉर्म जाने कैसे? (Aasha ka full foram)

23-सच्चा साहसी वह व्यक्ति है जो निराशा को हावी नहीं होने देता। -कनफ्यूशियस
24-Aasha का अर्थ है थका नहीं हूँ, टूटा नहीं, बिना पास वापस नहीं जाऊँगा। -वेदान्त तीर्थ
25-जो विषयों की आशा करते हैं वे तो दास हैं। जिन्होंने भगवान् में विश्वास करके Hope को जीत लिया, वे ही भगवान् के सच्चे सवेक हैं। -अमृत कलश

26-Asha और आत्मविश्वास ही वह वस्तुएँ हैं जो हमारी शक्तियों को जागृत करती हैं, हमारी उत्पादन शक्ति को दुगुना तिगना बढ़ा देती हैं। -स्वेट मार्डेन
26-निराशा और आशा को धूप छांव के समान समझें। -इमसन

जिसका अर्थ है कि आशा (Airth Aasha)

27-अच्छी निद्रा और परम सख उन्हें प्राप्त होता है जो आशा से बरी हैं। -वेदव्यास
28-जीवन में निराशा से बड़ा कोई अभिशाप नहीं है। -विवेकानन्द
29-जब कोई बात हमारी Aasha के विरुद्ध हो, तभी दुख होता है। -प्रेमचन्द्र

निष्कर्ष

ऊपर दी गई कंटेंट के माध्यम से आपने आशा का अर्थ और परिभाषा जैसे महापुरुषों ने Aasha के बारे में क्या कहा यह जाना ऊपर दिया गया कंटेंट आपको जरूर अच्छा लगा होगा आप महत्त्व को समझ गए होंगे|

और अधिक पढ़ें:L पृथ्वी की उत्पत्ति और इसके जैविक विकास के बारे में

1 thought on “Aasha जीवन कैसे प्रभावित करती है? आशा का अर्थ मतलब महापुरुष क्या कहते हैं?”

  1. Pingback: सच्चा धर्म (Saccha Dharm) क्या है? धर्म का उद्देश्य महान् विचारकों की दृष्टि में

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top