Mrityu In Hindi || मृत्यु क्या भयानक या आसान || महापुरुष क्या कहते Death के बारे में

मृत्यु (Death) से सभी भय खाते हैं, किन्तु मृत्यु (Mrityu In Hindi) आत्मा का स्थानान्तरण मात्र है। जिस प्रकार हम पुराने वस्त्र बदलते हैं, उसी प्रकार आत्मा शरीर बदलती है। मृत्यु मित्र है जो हजारों बंधनों, दुःखों एवं झंझटों से मुक्ति दिलाती है। जीवन की सच्चाई से मुकाबला कभी ना कभी होना है वह है जीवन का अंत। mrutyu कब और कैसे किस परिस्थिति में, क्या पीड़ा, क्या शांति इसके होने से क्या मिलता है? क्या होता है ऐसी तमाम प्रश्नों का सलूशन आप इस आर्टिकल में पढ़ने वाले हैं। चलिए जानते हैं महापुरुषों ने मृत्यु के बारे में क्या-क्या वक्तव्य दिया? इससे जानते हैं।

Mrityu In Hindi
Mrityu In Hindi

Mrutyu par महापुरुष क्या कहते

1-मृत्यु हमारे लिए रहस्य नहीं है। हम सब जानते हैं कि वह हम सबको आएगी। उसके बारे में सिर्फ इतना पता नहीं चल पाता कि वह कब आएगी। —रामतीर्थ
2-Death वह सोने की चाबी है जो अमरता के महल को खोल देती है-मिल्टन
3-मृत्यु उसकी मुक्तिदायिनी है जिसे स्वतंत्रता मुक्त नहीं कर सकती, यह उसकी चिकित्सक है जिसे औषध निरोध नहीं कर सकती, यह उसकी अन्नदायिनी है जिसे समय सांत्वना प्रदान नहीं कर सकता। -कोल्टन
4-Mrutyu का फव्वारा जीवन के स्थिर जल को नर्तन कराता है। -रवीन्द्र

5-मृत्यु के बारे में सदैव प्रसन्न रहो और इसे सत्य मानो कि भले आदमी पर जीवन में या मृत्यु के पश्चात् कोई बुराई नहीं आ सकती। -सुकरात
6-मृत्यु (Death) भी धर्मनिष्ठ प्राणी की रक्षा करती है। -कौटिल्य
7-दुष्ट स्त्री, कपटी दोस्त, जवाब देने वाला नौकर और सर्प वाले घर में रहना मौत (Mrutyu) ही है, सन्देह नहीं। —चाणक्य
8-वृद्ध मनुष्य Mrutyu के पास जाते हैं लेकिन युवकों के पास मृत्यु स्वयं आती है। अज्ञात-
9-मृत्यु थकावट के सदृश है, परन्तु सच्चा अंत तो अनंत की गोद में है। -रवीन्द्र
10-We Death सच्चा मित्र है। हमारा अहंभाव हमको दुःख देता है। —महात्मा गांधी

Mrityu quotes in hindi

11-मृत्यु का दूत अंधा और बहरा है। यदि उसके नेत्र और कान होते तो जगत में बहुत से विनाश के हृदयवेधक दृश्य न देख पड़ते। -सुदर्शन
12-आह! Mrutyu कितनी भयानक वस्तु है। नहीं प्यारे यह सब इस कारण है कि हमने इससे अपनी जान-पहचान बढ़ाने का उद्योग नहीं किया। -मेरीबल
13-जीने की राह एक है, मरने (Mrutyu) की सौ। -कहावत
14-सम्मानित पुरुष के लिए अपकीर्ति मृत्यु से भी बुरी है। -गीता
15-लोग मृत्यु को अमंगल मानते हैं, परंतु यह मृत्यु अमंगल नहीं है। मृत्यु (काल) परमात्मा की सेवक है अतः मंगल भी है। -रामचन्द्र डोगरे

16-मृत्यु साथ ही चलती है, वह साथ ही बैठती है और सुदूरवर्ती पथ पर भी साथ-साथ जाकर साथ ही लौट आती है। -रवीन्द्रनाथ टैगोर
17-जो मरना जानते हैं उनके लिए मौत (Death) भयंकर नहीं है। -अज्ञात
18-मृत्यु अर्थात् परमात्मा को बीते हुए जीवन का हिसाब देने का पवित्र दिन। -रामचन्द्र डोगरे
19-क्षुधा और प्यास से जितनों की Death होती है उनसे कहीं अधिक लोगों की Mrutyu अधिक भोजन और मदिरा सेवन से होती है। -कहावत
20-Mrutyu से नया जीवन मिलता है। जो व्यक्ति और राष्ट्र मरना नहीं जानते, वे जीना भी नहीं जानते। केवल वहीं जहाँ कब्र है, पुनरुत्थान होता है। -जवाहरलाल नेहरू

Quotes on mrityu in hindi

21-जीवन की चलती हुई तस्वीर के लिए मृत्यु ही एक समुचित चौखट है। -एक जर्मन दार्शनिक
22-जो आत्मा को अमर नहीं जानते वे ही mrityu से काँपा करते हैं। -हनुमान प्रसाद पोद्दार
23-जिसे देवता प्यार करते हैं वह जल्दी मरता (Death) है। -अज्ञात
29-विषाद में डूबने का नाम मृत्यु है। -दीनानाथ दिनेश
30-मृत्यु को स्वाभाविक बनाने वाला ही सुख से मर सकता है। -हनुमान प्रसाद पोद्दार

31-mrityu तो प्रभु का आमंत्रण है जब वह आये तो द्वार खोलकर उसका स्वागत करो और चरणों में हृदयधन सौंप अभिवादन करो। -रवीन्द्र
32-मृत्यु के कुछ समय पहले स्मृति बहुत साफ हो जाती है। जन्म भर की घटनाएँ एक-एक कर सामने आती हैं। समय की धुंध बिल्कुल उन पर से हट जाती है। -चन्द्रधर शर्मा गुलेरी
33-शरीर का नाश होना mrityu नहीं है। मृत्यु है वास्तव में पापों की वासना। —हनुमान प्रसाद पोद्दार
34-हे मृत्यु (Death) ! तू स्वयं अपनी शक्ति से किसी मनुष्य को नहीं मार सकती। मनुष्य किसी दूसरे कारण से नहीं, स्वयं अपने ही कर्मों से मारा जाता है। -योगवशिष्ठ
35-मनुष्य वैसे तो मृत्यु पर विजय नहीं पा सकता, किन्तु मृत्यु के भय से मुक्त हो जाना ही मौत को जीतना होता है। मृत्यु पर हँसना सीख जाओ, तो मृत्यु से डर कहाँ रह जाएगा। -मेजर रणजीत सिंह

निष्कर्ष

आपने ऊपर दी गई कंटेंट के माध्यम से Mrityu In Hindi मृत्यु के बारे में महापुरुषों ने क्या-क्या Quotes दिए इसको पढ़ा। आशा है आप Mrityu In Hindi को अच्छी तरह से जान गए होंगे। आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद।

और अधिक पढ़ें: Vani in hindi || वाणी का महत्त्व || क्या कहती है महान् विभूतियाँ वाणी के विषय में

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top